अजीबोगरीब है, कांग्रेस पार्टी का अनुशासन और निष्कासन !

Bokaro  : बोकारो के सर्किट हाउस में आज कांग्रेस पार्टी ने धनबाद लोकसभा चुनाव परिणाम की समीक्षा के लिए बैठक की। बैठक में बोकारो कांग्रेस का वह नेता भी शामिल था जिसको बोकारो कांग्रेस के जिला ने 06 वर्षों के लिए निष्कासित कर रखा है। समीक्षा बैठक में समीक्षा को छोड़कर बाकी सारी बातें हुई। जैसे किसी ने कहा विधानसभा में श्वेता सिंह की पार्टी टिकट दे तो किसी ने कहा कि हां, क्यों नहीं भाजपा की जीत पर जिसके घर पार्टी हुई हो, उसकी तो टिकट मिलना ही चाहिए। किसी ने अजीत सिंह चौधरी के निष्कासन का जब मुद्दा उठाया तो जिला अध्यक्ष उमेश प्रसाद गुप्ता बिफर पड़े और मजेदार यह था कि निष्कासित अजीत जी समीक्षा बैठक में शामिल होकर पार्टी को अपना बहुमूल्य सुझाव दे रहे थे।
खैर, आज की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे जिला अध्यक्ष उमेश प्रसाद गुप्ता।बैठक में मुख्य रूप से शामिल थे झारखंड चुनाव परिणाम समीक्षा समिति के अध्यक्ष डा.प्रदीप कुमार बालमुचू, समिति के सदस्य प्रदीप तुलसियान,सुलतान अहमद आदि।इसके अलावे बोकारो के कांग्रेस नेता।

बैठक में लोकसभा चुनाव की समीक्षा ना मात्र की हुई

बैठक में लोकसभा चुनाव की समीक्षा ना मात्र की हुई। पूरी बैठक का फोकस था आगामी विधानसभा चुनाव। प्रदीप जी ने सभी नेता और कार्यकर्ता से चुनाव की तैयारी में लग जाने की अपील की। इसी क्रम में कभी स्व. समरेश सिंह के करीबी रहे एक मुस्लिम समुदाय से आने वाले नेता ने श्वेता सिंह को विधानसभा टिकट देने की अपील कर डाली। ज़बाब में चास निवासी कांग्रेस के झारखंड प्रदेश स्तर के एक पदाधिकारी ने विरोध करते हुए कहा कि भाजपा के ढुल्लू महतो की जीत पर जिसके घर मटन की पार्टी हुई हो, पार्टी को उसको टिकट जरूर देना चाहिए। इनका साथ देते हुए कुछेक नेताओं ने तो ऐसे नेता पर कार्रवाई की मांग कर डाली। इसी बीच एक नेता ने कहा कि जो लोग पार्टी विरोधी काम करते हैं उनका महिमा मंडन हो रहा है और जो समर्पित होकर पार्टी के लिए काम करता है वैसे अजीत सिंह चौधरी को निष्कासित किया जाता है। इनका निष्कासन तुरंत खत्म होना चाहिए। इस पर जिला अध्यक्ष ने कहा कि यह काम आप करेंगे या हमको करना है।
मजेदार यह रहा कि अजीत सिंह चौधरी बैठक में शुरू से अंत तक शामिल थे तो सवाल उठना लाजमी है कि यह कैसा अजीबोगरीब अनुशासन है कांग्रेस पार्टी का। लोकसभा चुनाव में भी पार्टी प्रत्याशी के पति और कांग्रेस के बेरमो विधायक जयमंगल सिंह अजीत सिंह चौधरी के घर गए थे और उनके आग्रह पर अजीत जी ने पार्टी किए काम किया था। खैर, ऐसा अनुशासन और निष्कासन कांग्रेस को मुबारक हो।
बैठक में रामा राउत,श्वेता सिंह,जवाहर महथा, जुबिल अहमद, सगीर अंसारी, मृत्युंजय शर्मा, रीता सिंह, कौशल किशोर, ओम प्रकाश मंडल, सुशील झा,हरेंद्र सिंह,इंद्रदेव पासवान,महावीर सिंह चौधरी, रास नारायण सिंह, संजय सिंह, देवेंद्र चौबे, देवाशीष मंडल सहित अन्य नेता शामिल थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Latest Articles